On this website, you will get all the details of Central and Every State Government.

आयुष्मान भारत योजना (प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना) [Ayushman Bharat Yojna in Hindi]

Ayushman Bharat Yojana, Ayushman Bharat Yojana in Hindi, Ayushman Bharat Yojana in Hindi Essay, Ayushman Bharat Yojana List

आयुष्मान भारत योजना दुनिया की पहली ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत 50 करोड़ से भी ज्यादा लोगों तक स्वास्थ्य सुविधाएँ पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है। इस योजना का फायदा भारत के 10 करोड़ से भी ज्यादा परिवारों को मिलने वाला है जिसके अंतर्गत हर परिवार को एक साल में 5 लाख रुपये तक का इलाज करवाने की छूट होगी यानी कि अगर आपको को कोई बीमारी होती है और उसके इलाज में 5 लाख तक का खर्च आता है तो पैसे आपको नहीं देना होगा

किसे मिलेगा आयुष्मान भारत योजना का लाभ

ग्रामीण और शहरी इलाकों में लोगो को इस योजना के अंतर्गत शामिल करने के लिए अलग अलग मापदंड बनाये गए हैं

ग्रामीण इलाकों में वो परिवार आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत शामिल होंगे
  • जो कच्ची दीवार और कच्चे छत वाले एक कमरे के मकान में रहते हों
  • जिस परिवार में 16 वर्ष से लेकर 59 वर्ष तक की आयु के बीच का एक भी सदस्य न हो
  • जिस परिवार में घर चलने की जिम्मेदारी महिला पर हो और परिवार में ऐसा कोई भी सदस्य न हो जिसकी उम्र 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच हो।
  • वो परिवार जिसमें कम से कम एक दिव्यांग हो और परिवार कोई घर चलाने वाला कोई दूसरा वयस्क न हो।
  • अनुसूचित जातिऔर अनुसूचित जन जाति वाले सभी परिवार।
  • गाँव में रहने वाले सभी भूमिहीन परिवार जो मजदूरी कर के अपना घर चला रहे हों।
शहरी इलाकों में इन परिवारों को आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत शामिल किया जायेगा
  • कूड़ा बटोरने वाले लोग।
  • सड़कों पर छोटी दुकान लगाने वाले लोग।
  • दूसरों के घर में काम करने वाले लोग।
  • सडक पर घूम कर सामन बेचने वाले लोग।
  • मजदूर, प्लम्बर, मिस्त्री, सफाई कर्मचारी, चौकीदार, कुली, ड्राईवर, रिक्शा चालक, डिलीवरी करने वाले कर्मचारी और भी अन्य लोग।
ग्रामीण इलाकों में आयुष्मान भारत योजना का लाभ कमाई के आधार पर जबकि शहरी इलाकों में व्यक्ति के व्यवसाय के आधार पर दिया जायेगा। इस योजना का लाभ लेने वाले 80 प्रतिशत लोग ग्रामीण जबकि 20% प्रतिशत लोग शहरी इलाकों से होंगे

कैसे जारी होगी सूची

इसके लिए आपको किसी भी तरह का कोई फॉर्म नहीं भरना होगा। साल 2011 हुई सामाजिक, आर्थिक, और जातिगत आधारित जनगणना (Socio-Economic Caste Census-2011) के अनुसार आपका नाम खुद ही इस लिस्ट में शामिल कर लिया जायेगा

आपका नाम लिस्ट में है या नहीं

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत जारी सूची में आपका नाम है या नहीं इसके लिए आप 14555 पर कॉल कर के जानकारी ले सकते हैं। इसके अलावा आप आयुष्मान भारत योजना की Official  Website पर भी जाकर अपना नाम देख सकते हैं। इस के लिए आपको वेबसाइट पर जाकर अपना मोबाइल नम्बर डालना होगा। जिसके बाद आपके नम्बर पर एक ओटीपी आएगा। उसको सबमिट करने के बाद आप राशन कार्ड नम्बर या फिर अपने नाम और पिता के नाम से भी खोज पाएंगेआयुष्मान भारत योजना की सूची देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

क्यों खास है आयुष्मान भारत योजना

  • इस योजना के तहत आपके बीमार होने से पहले और ठीक होने के बाद का भी खर्चा शामिल है
  • अगर आप कहीं ग्रामीण इलाके में रहते हैं तो वहां से लेकर अस्पताल तक के बीच का यात्रा भत्ता भी एक सीमित राशि तक दिया जायेगा
  • सबसे बड़ी बात ये की अगर आप किसी प्राइवेट कंपनी से स्वास्थय बीमा लेते हैं तो आपको उस समय पूरी तरह से स्वस्थ होना जरुरी होता  है लेकिन इस योजना के अंतर्गत अगर पहले से भी बीमार हैं तो भी इसका लाभ आप ले सकते हैं

देश के किसी भी अस्पताल में करवा सकते हैं इलाज

  • इस योजना के अंतर्गत आप अगर किसी दूसरे प्रदेश के निवासी हैं तो भी आप किसी भी प्रदेश के किसी भी अस्पताल में जा कर इलाज करवा सकते हैं। इसमें सभी सरकारी अस्पताल और कुछ निजी अस्पतालों  को छोड़ बाकि सभी शामिल हैं

आयुष्मान भारत योजना का लक्ष्य

आयुष्मान भारत योजना का मुख्या लक्ष्य भारत की ज्यादातर आबादी को गरीबी रेखा से ऊपर ले  कर आना है। पिछले 10 सालों की बात करें तो अस्पताल में भर्ती होने के खर्चे में तीन गुना तक बढ़ोत्तरी हो चुकी है। इस खर्चे को उठाने के लिए भारत के ग्रामीण इलाके में 68% प्रतिशत लोग अपनी आय पर  निर्भर होते हैं जबकि 25% प्रतिशत लोग उधर लेकर अपना इलाज करवाते हैं। 
शहरी इलाकों में ये आंकड़ा 75% और 18% तक होता है।  ऐसे ये सभी परिवार इस खर्चे की वजह से गरीबी रेखा के नीचे पहुँच जाते हैं। इस योजना का मुख्य लक्ष्य भारत की उस 40% प्रतिशत आबादी को गरीबी रेखा से ऊपर उठाना है जो अपनी बीमारी की वजह से अपना सबकुछ खो देते हैं

आयुष्मान भारत योजना की कमियां

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत आपको किसी भी तरह का कोई फॉर्म या रजिस्ट्रेशन नहीं करवाना होगा और इसकी सूची 2011 में हुई सामाजिक, आर्थिक और जातिगत आधारित जनगणना के आधार पर तैयार हुई है। इस वजह जो परिवार या लोग साल 2011 के बाद गरीब हुए हैं वो आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे
आयुष्मान भारत योजना से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए कमेंट में जरुर बताएं

1 comment: